नोएडा के नामचीन (Fortis Hospital) पर पीड़ित के परिजनों ने इलाज के नाम पर लाखों रुपए ठगने का लगाए गंभीर आरोप नोएडा के नामचीन (Fortis Hospital) पर पीड़ित के परिजनों ने इलाज के नाम पर लाखों रुपए ठगने का लगाए गंभीर आरोप

Share

जन जोश संवाददाता: रंजीत गुप्ता

 

मंगलवार 17 मई 2022

 

 

-:Noida News : (Fortis Hospital) में इलाज के नाम पर मरीजों से हो रही लूट, मरीज के परिजनों ने सही उपचार और जांच रिपोर्ट सही ना मिलने पर परिजनों ने किया हंगामा , (Fortis Hospital) पर इलाज के नाम पर लाखों रुपए ठगने का परिजनों ने लगाया गंभीर आरोप :-

 

 

( जन जोश न्यूज़ ) नोएडा। के सेक्टर 62 फोर्टिस अस्पताल पर युवक को सही इलाज ना मिलने पर और बीमारी के प्रति अस्पताल द्वारा कराई गई जांच रिपोर्ट को समय पर ना देने पर परिजनों ने किया हंगामा, पीड़ित युवक संजय की पत्नी ने बताया कि उसने अपने पति के स्वास्थ्य खराब हो जाने पर 24 तारीख को फोर्टिस अस्पताल में दिखाने के लिए लाए तो वहां पर अस्पताल के सीनियर डॉक्टर अजय भल्ला द्वारा कहा गया कि इनका ऑपरेशन करना होगा उसके बाद महिला ने अपने पति को हॉस्पिटल में भर्ती करा दिया पीड़ित महिला ने बताया कि डॉ अजय भल्ला ने कहा कि ऑपरेशन करने से पहले टेस्ट करने होंगे जिसके लिए लगभग 54 हजार से ₹55000 लगेंगे पीड़ित

 

 

महिला ने जैसे-तैसे कर टेस्ट के नाम पर ₹57000 दे दिए पैसे देने के बाद भी फोर्टिस अस्पताल ने महिला के पति का कोई भी टेस्ट नहीं किया ऐसा महिला ने फोर्टिस अस्पताल पर आरोप लगाया है ,पीड़ित युवक के परिजनों ने तो फोर्टिस अस्पताल पर आरोप लगाते हुए कहा कि जब से हम अपने मरीज के लिए फोर्टिस अस्पताल में लाए थे तब से और ज्यादा हमारे मरीज का स्वास्थ्य बिगड़ गया था इस वजह से हम ने आनन-फानन में अपने मरीज के लिए दूसरे अस्पताल में भर्ती कराया पीड़ित युवक के परिजन फोर्टिस अस्पताल द्वारा पीड़ित युवक के बीमारी के प्रति किए गए टेस्ट की रिपोर्ट लेने के लिए कई बार चक्कर फोर्टिस अस्पताल के लगा चुके थे लेकिन सोमवार को परिजन पीड़ित युवक संजय की टेस्ट

 

की रिपोर्ट लेने फोर्टिस अस्पताल गए तो अस्पताल के लोगों ने रिपोर्ट देने में आनाकानी करने लगे जिसके बाद काफी विवाद बढ़ गया फिर परिजनों ने फोर्टिस अस्पताल के अंदर फोर्टिस अस्पताल के नाम से चोर और फोर्टिस अस्पताल को ठग का नाम लेकर नारे लगाकर विरोध प्रदर्शन करने लगे फिर परिजनों ने 112 पर कॉल कर प्रशासन को भी बुलाया जिसके बाद मामला थाना 58 थाने मैं पहुंच गया फिर परिजनों ने फोर्टिस अस्पताल के ऊपर टेस्ट की रिपोर्ट सही ना देने और इलाज के नाम पर मोटी रकम ठगने का आरोप लगाया

 

 


Share