home औरंगाबाद जिला

किसानों के समर्थन में भारत बंद में चक्का जाम करने सड़क पर बैठे समदर्शी

Share

चितरंजन कुमार-
जन अधिकार पार्टी (लोकतांत्रिक) के प्रदेश महासचिव सह किसान प्रकोष्ठ प्रभारी संदीप सिंह समदर्शी ने कृषि कानून की वापसी ,बढ़ती महंगाई, यूरिया की कालाबाजारी, बेरोजगारी, भ्रष्टाचार, गलत शिक्षा नीति और कानून व्यवस्था के खिलाफ आयोजित भारत बंद पूरी तरह से सफल रहा। इस बंद के लिए रफीगंज की जनता खासतौर से समर्थन दी।समदर्शी ने आगे कहा कि किसान आंदोलन के 10 महीने से ऊपर हो गए हैं, लेकिन केंद्र सरकार किसानों की बात नहीं सुन रही है और किसानों को सड़कों पर तिल – तिल कर मरने के लिए छोड़ दी है, क्योंकि भारत सरकार को किसानों के हितों से कम मतलब है उन कारपोरेट घरानों से ज्यादा मतलब है जिनका प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से दोस्ती है, और उनके द्वारा कॉर्पोरेट घरानों के फायदे के लिए तीनों कृषि काला कानून लाया गया है और बिहार में यूरिया की कालाबाजारी की जा रही है इसके कारण किसान बेहाल है, और हर दिन किसानों को यूरिया के लिए सड़कों पर पुलिस के डंडे खाने पड़ रहे हैं। डबल इंजन की सरकार किसान, नौजवान, खेत, मजदूर तथा छात्रों के साथ जिस तरह का क्रूर रवैया अपनाए हुए हैं, उसी के गुस्से का परिणाम है आज के भारत बंद का व्यापक स्तर पर समर्थन मिलना। जन अधिकार पार्टी (लोकतांत्रिक) की ओर से रफीगंज में लोगों से बंद को सफल बनाने में सहयोग के लिए समर्थन मांगा और लोगों ने पूर्णरूपेण समर्थन देकर किसानों के साथ अपनी एकजुटता प्रदर्शित की है, जो बधाई के पात्र हैं। इस मौके पर तत्कालीन प्रखंड अध्यक्ष अरविंद कुमार भगत, किसान नेता कृष्णा यादव, पार्टी नेता संजय कुमार सिंह, सुरेंद्र कुमार सिंह, पप्पू कुमार, मुन्ना कुमार, छात्र नेता आनंद कुमार, कुन्दन कुमार कार्यालय सिटी सचिव सुभाष राय सहित अन्य लोग मौजूद रहे।


Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *